International Journal Of Creative and Innovative Research In All Studies
International Peer-Reviewed Journal

 >   Manuscript Details

Manuscript Details - IJCIRAS1699

ManuScript Details
Paper Id: IJCIRAS1699
Title: चंपारण का विकास और गांधी
Published in: International Journal Of Creative and Innovative Research In All Studies
Publisher: IJCIRAS
ISSN: 2581-5334
Volume / Issue: Volume 2 Issue 12
Pages: 5
Published On: 12/4/2020 3:58:03 AM      (MM/dd/yyyy)
Main Author Details
Name: डॉ. प्रवीण कुमार झा
Institute: ARSD College, University of Delhi
Co - Author Details
Author Name Author Institute
Abstract
Research Area: mass communication
KeyWord: CHAMPARAN AUR GANDHI
Abstract: हिमालय के तराई प्रदेश में बसा चंपारण का इतिहास गौरवपूर्ण एवं शक्तिशाली रहा है। यह ऐतिहासिक जिला जल एवं वनसंपदा से पूर्ण है। चंपारण का नाम चंपा + अरण्य से बना है जिसका अर्थ होता है- चम्पाप के पेड़ों से आच्छालदित जंगल। एक ओर चंपारण की भूमि देवी सीता की शरणस्थली होने से पवित्र है वहीं दूसरी ओर आधुनिक भारत में गाँधीजी का चंपारण सत्याग्रह भारतीय स्वतंत्रता के इतिहास का अमूल्य धरोहर है।गाँधी जी ने दक्षिण अफ्रीका से भारत लौटने के बाद गोखले के परामर्श पर वर्ष भर भ्रमण करते हुए भारत के ग्रामों और किसानों को समझने की मौन चेष्टा की। भारत के स्वतंत्रता संग्राम के समय चंपारण के राजकुमार शुक्ल के बुलावे पर महात्मा गाँधी अप्रैल 1917 में मोतिहारी आए। उस समय नील की फसल पर तीनकठिया खेती के विरोध में सत्याग्रह का पहला सफल प्रयोग किया। आजा़दी की लड़ाई में अनेक जगहो पर चंपारण मे स्त्रियो के साथ साथ बच्चो को शिक्षित करने के लिए विद्यालय का निर्माण कर नए चरण की शुरूआत थी। भारत में गरीबी की विकट समस्या को दृष्टिगत रखते हुये केन्द्र सरकार स्वतंत्रता के प्रारंभिक वर्षों से ही गरीबी निवारण के लिये प्रयासरत है पंचवर्षीय योजनाओं में गरीबी उन्मूलन को प्रमुख प्रथमिकताओं में सम्मिलित किया गया है। भारत सरकार ने महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम, दीनदयाल अंत्योदय योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना और राष्ट्रीय सामाजिक सहायता कार्यक्रम को लागू करके ग्रामीण क्षेत्रों में गरीबी को कम करने के लिए काम कर रही है। आज का चंपारण गांधी का वैश्विक नजरिया व्यक्ति के साथ-साथ समाज के नैतिक मूल्यों से जुड़ा था। धूम्रपान और शराब की कड़े तौर पर मनाही थी। बड़हरवा लखनसेन में गांधी ने पहला स्कूल खोला था।
Citations
Copy and paste a formatted citation or use one of the links to import into a bibliography manager and reference.

IEEE
डॉ. प्रवीण कुमार झा, "चंपारण का विकास और गांधी ", International Journal Of Creative and Innovative Research In All Studies, vol. 2, no. 12, pp. 194-198, 2020.
MLA डॉ. प्रवीण कुमार झा "चंपारण का विकास और गांधी ." International Journal Of Creative and Innovative Research In All Studies, vol 2, no. 12, 2020, pp. 194-198.
APA डॉ. प्रवीण कुमार झा (2020). चंपारण का विकास और गांधी . International Journal Of Creative and Innovative Research In All Studies, 2(12), 194-198.
चंपारण का विकास और गांधी
Number Of Downloads - 2


Last downloaded on 23/12/2020
Similar-Paper
Manuscript

Need Some Help?

Feel free to visit our FAQ section. You can also send us an email here or give us a call on +91 9898652593, +91 70165 51209.